• July 13, 2020

जादूगोड़ा पुलिस पर छेड़खानी मामले में एक आरोपी का नाम हटाने का आरोप

जादूगोड़ा के कोकदा गांव में रहने वाली एक महिला मजदूर ने एसएसपी कार्यालय में आवेदन सौंपकर जादूगोड़ा पुलिस पर उसका एफआईआर बदलने का आरोप लगाया है। महिला ने बताया कि उसने जादूगोड़ा थाना में प्रलय रजक और दीपेश रजक उर्फ भांजु पर प्राथमिकी दर्ज कराई थी। दोनों ने उसके साथ सात जून को गलत करने का प्रयास किया था और छेड़खानी भी की थी। महिला ने बताया कि जादूगोड़ा पुलिस ने उसके द्वारा दिए गए लिखित आवेदन को ही बदल दिया है। आवेदन में रजक का नाम हटा दिया है।कोर्ट में जो एफआईआर भेजा गया है उसमें उसके हस्ताक्षर की जगह किसी और ने उसके नाम का हस्ताक्षर कर दिया है। 29 जून को कोर्ट जाने पर उसे पता चला कि उसके द्वारा थाना में दिया गए आवेदन को बदल दिया गया है। प्राथमिकी से प्रलय रजक का नाम हटा दिया गया है। महिला ने इस केस के अनुसंधानकर्ता एसएस शर्मा पर उसे केस उठाने की धमकी देने का आरोप लगाया। महिला ने बताया कि एसएस शर्मा ने मंगलवार की सुबह मेरे घर आकर केस उठाने की धमकी दी। महिला ने एसएसपी से कार्रवाई की मांग की है। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Please follow and like us:

Related post

Coronavirus Live Update

COVID-19