• July 11, 2020

दिनभर पसीने में भिगोने के बाद मानसून का मंगल प्रवेश

शहर में दिनभर भीषण तपिश के बाद मंगलवार रात मानसून का मंगल आगाज हुआ। मंगलवार शाम के बाद मौसम में बदलाव हुआ तथा पूरे शहर में अच्छी बारिश हाे गई। रात बारिश के बाद शहर के लोगों को गर्मी से काफी राहत मिली। मौसम विभाग के अनुसार बुधवार को बादलों की आवाजाही रहेगी तथा अगले 2 दिनों में बारिश की संभावनाएं भी बन सकती हैं।अरब सागर में बने एक ऊपरी हवाओं के चक्रवात से मानसून में सक्रियता आई और नमी व बादल गुजरात से होते हुए राजस्थान की तरफ बढ़ने लगे। ये बादल व नमी जोधपुर की तरफ भी बढ़ रहे थे। अलसुबह तो खुली धूप निकली थी, इससे शहर का तापमान 32.5 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। दिन निकलने के साथ धूप भी बढ़ी और शहर में अधिकतम तापमान करीब एक डिग्री की बढ़ोतरी के साथ 43.1 डिग्री पहुंच गया।शाम के बाद मौसम बदलने लगा और बादलों की आवाजाही जोधपुर की तरफ बढ़ी और उन्हें अरब सागर की तरफ से नमी भी मिली। इसके चलते शहर के अधिकांश हिस्सों में बारिश होने लगी। रात तक शहर के सभी हिस्सों में बारिश हो गई। जोधपुर शहर में मंगलवार को रात 11:30 बजे तक 21.1 एमएम बारिश रिकॉर्ड हुई तथा इससे पहले जून माह में 18.4 एमएम बारिश रिकॉर्ड हो चुकी है। अब तक जून माह में 39.5 एमएम बारिश हो चुकी है।पहली बारिश में सड़क पर निगम के दावे भी पानी-पानीमानसून की पहली बारिश से ही सड़कों पर 2 से 3 फीट पानी भर गया। राहगीरों व वाहनचालकों को परेशानी हुई। सबसे ज्यादा परेशानी पावटा, एमडीएम हॉस्पिटल के बाहर, शास्त्रीनगर, सेक्शन सेवन से न्यू पॉवर हाउस तक व डीआरएम ऑफिस से खतरनाक पुलिया होते हुए बिग बाजार तक सड़क के दोनों ओर पानी भरने से आई।कई वाहन पानी मे बंद हो गए। सड़कों पर भरे पानी ने नगर निगम के उन दावों को पोल खोल दी, जिसमें नालों की सफाई व बारिश में पानी भराव नहीं होने का दावा किया था। सिवांची गेट स्थित निगम गैराज में खोला बाढ़ नियंत्रण कक्ष रात साढ़े दस बजे अंधेरे में डूबा था। यहां सिर्फ स्टोर इंचार्ज व वाहन चालक मौजूद थे। बाढ़ नियंत्रण कक्ष में तैनात प्रभारी व अन्य अफसर नहीं दिखे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

After soaking in sweats throughout the day, the monsoon enters Mars

Please follow and like us:

Related post

Coronavirus Live Update

COVID-19