• July 6, 2020

प्लास्टिक वस्तुओं के दोबारा प्रयोग को प्रफुलित करने को खाद को डिब्बों में किया जा रहा पैक

प्लास्टिक वस्तुओं के दोबारा प्रयोग को प्रफुलित करने के लिए खाद को डिब्बों में पैक कर तैयार किए नमूने डी सोसायटी के वर्करों की ओर से डिप्टी कमिश्नर मानसा महिंदर पाल को भेंट किए गए।

3डी सोसायटी की ओर से किए जा रहे कामों की डिप्टी कमिश्नर द्वारा प्रशंसा की गई। 3डी सोसायटी के सैक्ट्री जसविंदर सिंह ने बताया इसके अलावा कूड़े में से एकत्र किए प्लास्टिक के डिब्बे जैसे दही वाले कप, फ्रूट पैकिंग वाले डिब्बे आदि को रीसाइकल कर कंपोस्ट इनमें पैक की जा रही है।

उन्होंने बताया कि मानसा में चल रहे डी प्रोजेकट के तहत डी सोसायटी की ओर से शहर के सभी वार्डों में से कूड़े को डोर टू डोर घरों, दुकानों और अलग-अलग अदारों में से एकत्र कर शहर में अलग-अलग 4 एमआरएफ शैड (मटीरियल रिकवरी फेसिलटी) पर ले जाया जाता है।

उन्होंने बताया कि यह 4 एमआरएफ शैड खोखर रोड, चकेरिया रोड, एसडीएम ऑफिस और डीसी आवास के साथ बने हुए हैं। इन एमआरएफ शैड पर सूखे कूड़े को वर्करों द्वारा अलग-अलग बैग में पैक किया जाता है और इसको रीसाइकल के लिए भेजा जाता है और गीले कूड़े (किचन वेस्ट, होर्टिकल्चर वेस्ट) को प्रोसेसिंग के लिए पिट्ट में खाद बनने के लिए डाला जाता है।

उन्होंने बताया कि नगर कौंसिल की ओर से स्वच्छ भारत मिशन के तहत एमआरएफ शैडों का निर्माण किया गया है और तजवीजत 125 पिट्ट में से कुल 57 पिट्ट एमआरएफ शेडों में बने हुए हैं और बाकी पिट्ट खोखर रोड पर एमआरएफ शैड के साथ बन रहे हैं।

उन्होंने बताया कि किचन वेस्ट से तैयार की खाद 10 रुपए किलो के हिसाब के साथ ओर वर्मी कंपोस्ट खाद 50 रुपए किलो के हिसाब के साथ बेची जा रही है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Manure packs are being packed in compartments to make reuse of plastic goods
Please follow and like us:

Related post

Coronavirus Live Update

COVID-19