• July 11, 2020

मानसून के प्रवेश के 6 दिन बाद दूसरी बारिश मारवाड़ बालिया में तेज हवाओं से पेड़ भी टूटे

शहर में मंगलवार शाम को बारिश हुई। पिछले 7 दिन से लगातार बढ़ रहे तापमान में बारिश के कारण हल्की गिरावट महसूस की गई। दिन में तेज धूप व गर्मी से लोगों के हाल बेहाल रहे। बाद में दोपहर 3:00 बजे से आसमान में बादल उमड़ आए एवं शाम 4:30 बजे तेज आंधी के साथ बारिश शुरू हुई। बारिश का दौर रुक-रुक कर 10 मिनट चलता रहा, परंतु इसने शहर को तरबतर कर दिया। इससे मंगलाना रोड पर बारिश का पानी इकट्ठा हो गया व बड़ौदा बैंक के सामने बारिश के पानी ने नाले का रूप ले लिया। यहां से आगे पानी की निकासी की उचित व्यवस्था नहीं होने के कारण सड़क के पास रहने वाले लोगों को थोड़ी परेशानी हुई। उधर बारिश के बाद मौसम में ठंडक आई, जिससे लोगों को गर्मी से राहत मिली।हरसौर | दिनभर उमस के बाद दोपहर बाद ग्रामीण अंचल में जोरदार बारिश हुई। ग्राम बोफली में बारिश का पानी मुख्य सड़क मार्ग पर जमा हो गया, जिससे आवागमन बाधित हुआ।डेगाना| डेगाना शहर में शाम काे हुई बारिश से लोगों को गर्मी से राहत मिली। किसानों के चेहरे खिल उठे। देर शाम तक रुक-रुक कर बारिश होती रही।आज भी जिले के पूर्वी इलाकों में हल्के से मध्यम बारिश होने की संभावनाठठाना मीठड़ी | कस्बे में मंगलवार को दिनभर तेज तपिश के बाद शाम को तेज अंधड़ के साथ हल्की बूंदाबांदी से मौसम सुहाना हो गया, जिससे आमजन को भीषण गर्मी से राहत मिली। तापमान में गिरावट आई। वहीं खेतों में हाल ही में बुवाई के बाद उग आई फसल जो बारिश के अभाव में मुरझा रही थी। उस फसल को यह हल्की बूंदाबांदी फायदेमंद साबित हो रही है।मारवाड़ बालिया| गांव डिकावा में कई दिनों से हो रही कड़ी धूप और भीषण गर्मी के बाद मंगलवार दोपहर हुई झमाझम बारिश से मौसम सुहाना हो गया। ग्रामीण क्षेत्रों में सूखे पड़े तालाबों में पानी की आवक हुई। डिकावा के किसान मंगनाराम मेघवाल ने बताया कि तेज आंधी व बारिश से कई पेड़-पौधे टूट पड़े, जिससे किसानों को काफी नुकसान हुआ।मंगलाना | मंगलाना सहित आसपास के इलाके में तेज आंधी के बाद थोड़ी बारिश से लोगों ने राहत महसूस की। दो दिन तेज उमस के बाद मंगलवार को दोपहर बाद मौसम का मिजाज बदल गया और तेज धूल भरी आंधी शुरू हो गई। कुछ समय बाद गर्जना के साथ बारिश भी हुई। जिससे तापमान में गिरावट आई।मौलासर | अंचल में मंगलवार दोपहर बाद आंधी के साथ ही बारिश हुई, जिससे तापमान में गिरावट आ गई। इस बीच तेज हवा के साथ ही हल्की बूंदा बांदी का दौर शुरू हो गया, जिससे ठंडी हवाएं चलने लगी।नागौर | दिन भर तेज गर्मी के साथ बढ़ी उमस ने जनजीवन बेहाल किया। न्यूनतम 33 डिग्री तापमान के साथ दिन की शुरुआत हुई। सूर्योदय के साथ ही तेज गर्मी पड़ने लगी। तेज उमस के बीच मंगलवार को तापमान 41 डिग्री रहा। बुधवार को भी तेज उमस जनजीवन बेहाल करेगी, क्योंकि मौसम में आद्रता का स्तर 50 प्रतिशत से ऊपर रहेगा। साथ ही दोपहर के समय घने बादल छाने से जिले के कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार 1 जून को अजमेर संभाग के कुछ इलाकों में बारिश का अनुमान है। आगामी 3 दिन तक पश्चिमी राजस्थान में मौसम शुष्क रहने की संभावना जताई गई है। गत 25 जून को शहर सहित जिले के कई इलाकों में मध्यम दर्जे की बारिश हुई थी जिसके बाद किसानों ने खेतों में बुवाई कर दी। दूसरी बारिश होने से बोई हुई फसलों को फायदा होगा।दयालपुरा | क्षेत्र में दोपहर को मौसम बदला और हल्की बारिश हुई। बारिश के बाद आकाश में इंद्रधनुष का नजारा भी देखा गया। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

6 days after the entry of monsoon, the second rain also damaged trees in Marwar Balia due to strong winds.

Please follow and like us:

Related post

Coronavirus Live Update

COVID-19