• July 11, 2020

15 जुलाई तक बंद रहेंगे धार्मिक स्थल; कोरोना केस बढ़े तो आगे भी जारी रह सकती हैं पाबंदियां

अनलॉक 2.0 आज से शुरू हो रहा है, मगर जिले के धार्मिक स्थलों में अभी लॉकडाउन जारी रहेगा। मंगलवार को प्रशासनिक अधिकारियों के साथधार्मिक प्रतिनिधियों की बैठक के दौरान यह निर्णय लिया गया।जिला सचिवालय में जिलेभर के धार्मिक व पूजा स्थलों को खोलने को लेकर विचार-विमर्श करने के लिए यह मीटिंग बुलाई गई थी। इसमें तय हुआ कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए भीड़ नहीं होने देना जरूरी है। इसलिए एहतियात के तौर पर धार्मिक स्थानों को अभी बंद रखा जाना बेहतर है। इसके बाद निर्देश जारी कर दिए गए कि धार्मिक स्थल 15 जुलाई तक बंद रखे जाएंगे।इसलिए पाबंदी… सोशल डिस्टेंसिंग रखना मुश्किलदरअसल धार्मिक स्थल पुराने समय से ही लोगों की आस्था का केंद्र रहे हैं। इसलिए तकरीबन लोगों का इनसे नाता रहता है। बड़ी संख्या में लोग धार्मिक स्थलों पर एकत्रित होने के साथ ही प्रसाद वितरण सहित अन्य धार्मिक आयोजन करते हैं। उस स्थिति में श्रद्धा और धर्म की भावना के अनुरूपसख्ती करना भी संभव नहीं हो पाएगा। भीड़ के चलते सोशल डिस्टेंसिंग की पालना भी मुश्किल हो सकती है।एसडीएम बोले- शर्तों के साथ खोलने को तैयार, मगर प्रतिनिधियों का इनकारबैठक में एसडीएम रविंद्र यादव ने कहा कि सरकार और प्रशासन मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) की अनुपालना के साथ धार्मिक स्थल खोलने के लिए तैयार हैं। मगर धार्मिक स्थलों के प्रतिनिधियों ने अभी सुरक्षा को देखते हुए इससे इंकार किया है।प्रशासन द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार विभिन्न धार्मिक प्रतिनिधियों एसके जोशी, नवनीत, मौलवी उमर, आरएस यादव, रमजान खान, प्रमोद कुमार सरदार कृपाल सिंह, सरदार प्रीतपाल सिंह, अरूण गुप्ता, सतीश कुमार महंत, प. पहलाद शर्मा सहित अन्य प्रतिनिधियों ने एकमत से धार्मिक व पूजा स्थलों को जिला प्रशासन से 15 जुलाई तक यथास्थिति बनाए रखने पर सहमति जताई। प्रशासन ने इस आधार पर जिले के मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारे, चर्च आदि 15 जुलाई तक नहीं खोलने के निर्देश जारी कर दिए। यानी लोगों को अभी मंदिरों में भगवान की पूजा अर्चना के लिए इंतजार करना हेागा। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Please follow and like us:

Related post

Coronavirus Live Update

COVID-19